Apke Lekh

Mr. Nandlal Vishwakarma
Mr. Nandlal Vishwakarma mailbox4nandlal@gmail.com 9819381626
Subject : भ्रम का सिंहासन

एक सपना लेकर, सभी लोग आते हैं सामने,
दूर कहीं दिखाते हैं सोने-चांदी से बना सिंहासन,
कहते हैं, तुम उस पर बैठ सकते हो,
और कर सकते हो दुनियां पर शासन,
उठाकर देखता हूं दृष्ट...

Mr. Nandlal Vishwakarma
Mr. Nandlal Vishwakarma mailbox4nandlal@gmail.com 9819381626
Subject : मेरा भारत

भूखे इंसान के पास देश भक्ति कहां से आयेगी, रोटी की तलाश में भावना कब तक जिंदा रह पायेगी. पत्थर और लोहे से भरे शहर भले देश दिखलाते रहो, महंगाई वह राक्षसी है जो देशभक्ति को कुचल जायेगी.

...

Mr Ram Awadh Vishwakarma
Mr Ram Awadh Vishwakarma bsnlgwl@gmail.com 09479328400
Subject : कैसी ये दीवाली आर्इ

कैसी ये दीवाली आर्इ, कैसी ये दीवाली आर्इ।

थे अपने भी वारे न्यारे, सोते थे हम पाँव पसारे ।
भूल गये अब धींगा मस्ती, घर की करने लगे पुतार्इ ।
कैसी ये दीवाली आर्इ।

छीन...

Mr Goma Ram
Mr Goma Ram ram@gomaram.com 9560744784
Subject : रिश्ते

रिश्तों को यूँ तोड़ते, जैसे कच्चा सूत, बंटवारा माँ-बाप का, करने लगे कपूत.
स्वार्थ की बुनियाद पर, रिश्तों की दीवार, कच्चे धागों की तरह, टूट रहे परिवार.
नयी सदी से मिल रही, दर्द भरी सौग...

Mr Santhosh Vadloju
Mr Santhosh Vadloju santhoshchary.v@gmail.com 9440776318
Subject : Shree Vishwakarma

Lets the World Know "We are Proud to be a an "Indian"
Lets the World Know "We are Proud to be a "Hindu"
Lets the World Know "We are Proud to be a "Vishwakarma"

Shree Vishwak...

Mr Indra Suthar
Mr Indra Suthar ikumars21@gmail.com 9468657888
Subject : पत्नी और पप्पू

पत्नी की रोज रोज की झिक-झिक से परेशान पप्पू अपना सामान बांधते हुए बोला : अब तो मैं तेरे साथ एक पल भी नहीं रहूँगा.

पप्पू रेलवे स्टेशन गया, और ट्रेन में चढने लगा, तभी आकाशवाणी हुई, इसमें मत च...

Mr Omesha  Arts
Mr Omesha Arts omesha.arts@gmail.com 8652681157
Subject : ताजमहल होटल की कहानी

ताजमहल होटल के निर्माण के पीछे एक रोचक कहानी छुपी हुई है। माना जाता है कि सिनेमा के जनक लुमायर भाईयों ने अपनी खोज के छ: महीनों बाद अपनी पहली फ़िल्म का प्रदर्शन मुम्बई में प्रदर्शित किया था। वे ऑस्ट...

Mr Ram Awadh Vishwakarma
Mr Ram Awadh Vishwakarma bsnlgwl@gmail.com 09479328400
Subject : गजल

ठीक जगह पर देख भाल के बैठा हूँ। मैं अपनी कुर्सी संभाल के बैठा हूँ।

तीसमारखाँ बहुत बना फिरता था वो, मैं उसकी पगड़ी उछाल के बैठा हूँ।

दुष्मन से बदला लेने की खातिर मैं, आस्तीन म...

Mr Indra Suthar
Mr Indra Suthar ikumars21@gmail.com 9468657888
Subject : चंगु लाल

चंगु लाल एक दिन अपने आप ही घर की ट्यूब लाइट ठीक कर रहा था, तो उसने आवाज़ लगाई.
चंगु लाल: बीवी ओ बीवी, सुनती हो!
बीवी: क्या है?
चंगु लाल: अरे जरा इधर तो आ.
बीवी: लो आ गई, ...

Mr Indra Suthar
Mr Indra Suthar ikumars21@gmail.com 9468657888
Subject : You are the architect

You are the architect of your owner destiny; you are the master of your own fate; you are behind the steering wheel of your life. There are no limitations to what you can do, have, or be. Accept th...

Ads