Apke Lekh Post Lekh

To Post articles on VishwakarmaSamaj.co, you need to login. click here to login
Mr. Pannalal Sharma
Mr. Pannalal Sharma pannalal1975@gmail.com 9532679194
Subject : Integrity Parmo Dharma
We all should strive for the development of society. According to Lord Shri Krishna, Vishwakarma ji is the best in all Brahmins. To move our society, young people will never have to give up their de...
Mr. Hemant Sharma
Mr. Hemant Sharma hemantsharma2003@gmail.com 9711068648
Subject : भगवान विश्वकर्मा
भगवान विश्वकर्मा एक अद्वितीय शिल्पी थे। इंजीनियरिंग में उनके ज्ञान और बुद्धि के आगे कोई और नहीं ठहरता था। उन्हेंं वास्तुशास्त्र का जनक भी मना जाता है। विश्वकर्माजी ने ही इन्द्रपुरी, यमपुरी, वरुणपुरी, ...
Mr BABULNATH VISHWAKARMA
Mr BABULNATH VISHWAKARMA babulnathvishwakarma123@gmail.com 9022022057
Subject : सोच को बदले तभी समाज की उन्नति हो सकती है
आज का समाज क्या चाहिता है लोगो से क्या आपने कभी इस बारे में सोचा है की नहीं यदि नहीं तो आप बहुत बड़ी गलती कर रहे है / वैसे तो आज के इस बदले हुंए युग में कोई भी समाज की चिंता नहीं करता है क्योकि समाज क...
Mr Ranjeet  Kumar
Mr Ranjeet Kumar ranjeet.kumar101287@gmail.com 9452704195
Subject : सीख
कहते हैं कि हर शख्स के भीतर बुराईयों और अच्छाईयों का समागम होता है. जब बुराईयां हावी होने लगती हैं तो इंसान दानव और अच्छाईयों के बहुतायत पर देवता हो जाता है. कई बार बुरे विचार जेहन में आते हैं लेकिन ह...
Mr. रजनीश  मार्तण्ड
Mr. रजनीश मार्तण्ड rajneeshmartand@gmail.com 9455502007
Subject : त्वष्ट्र पैटरे
त्वष्ट्र पैटरे, जिसे त्वश्तर पैटरे (Tvashtar Paterae) भी उच्चारित करते हैं, (इसका नाम त्वष्ठा विश्वकर्मा नामक हिन्दू ऋग्वैदिक देवता पर रखा गया है जो लोहारों के अधिदेवता माने जाते हैं) गैलिलेयो ...
Mr. Anil Vishwakarma
Mr. Anil Vishwakarma vsfounder@gmail.com 9869866137
Subject : रावण से सबक, जो लक्ष्मण ने सीखे
कहते हैं कि हर शख्स के भीतर बुराईयों और अच्छाईयों का समागम होता है. जब बुराईयां हावी होने लगती हैं तो इंसान दानव और अच्छाईयों के बहुतायत पर देवता हो जाता है. कई बार बुरे विचार जेहन में आते हैं लेकिन ह...
Mr. Shyam Vishwakarma
Mr. Shyam Vishwakarma vishwakarma.sv@gmail.com N
Subject : ऊँचा पद
यूँ ही खीच तान में जब बिखर गया समाज,
बड़ा पद हमको चाहिए पर करना नहीं कुछ काम...
करना नहीं है कुछ काम पर पद बड़ा ही चाहिए,
झूठे दिखावे की चाह में बनगया और एक समाज...
जब बनाये...
Mr Pankaj Sharma
Mr Pankaj Sharma pankaj.bca@live.com 09910364891
Subject : आगे सफर था और पीछे हमसफर
आगे सफर था और पीछे हमसफर
था...
रूकते तो सफर छूट जाता और चलते तो हम सफर छूट जाता...
मंजिल की भी हसरत थी और उनसे भी मोहब्बत थी...
ए दिल तू ही बता... उस वक्त मैं कहाँ
जाता.....
Mr Dinesh Suthar
Mr Dinesh Suthar dsuthar.sde@gmail.com 8769475707
Subject : 15 लाख का सपना
कुछ दिन पहले सुना कि किसी ने कहा है मेरे खाते में भी 15 लाख आएंगे फिर मैं भी अमीर बन जाऊंगा कल रात सोचते सोचते सो गया कि काश ये सच होता..... रात को सपना आया मैंने देखा कि मेरे मोबाइल में SMS आया कि ...
Mr Ashok Rana
Mr Ashok Rana alsrana@gmail.com 9953505209
Subject : जीवन की सचाई

जीवन की सचाई एक आदमी की चार पत्नियाँ थी।

वह अपनी चौथी पत्नी से बहुत प्यार करता था और उसकी खूब देखभाल करता व उसको सबसे श्रेष्ठ देता।
वह अपनी तीसरी पत्नी से भी प्यार करता था और हमेशा उस...