Apke Lekh Details

To post comments on this Lekh you need to be logged in.

Mr. Manoj Vishwakarma
Mr. Manoj Vishwakarma hello4mannu@gmail.com 9320750740
Subject : प्याज के लाभ

प्याज काट कर रखने से यह वातावरण में मौजूद बैक्टीरिया सोख लेता है।

कान दर्द : प्याज गर्म राख में भुनकर उसका पानी निचोड़कर कान में डाले। दर्द में तुरंत लाभ होगा।

मोतिया बिन्द : प्याज का रस एक तोला, असली शहद एक तोला, भीमसेनी कपूर तीन माशे सबको खूब मिलाकर लगाने से मोतिया का असर नहीं होता।

पेट के कीड़े : प्याज का कच्चा रस पिलाने से पेट के कीड़े नष्ट हो जाते हें।

बारूद से जलने पर : यदि शरीर का कोई भाग बारूद से जल जाये तो उस स्थान पर प्याज का रस लगाने से लाभ होता है।

कब्‍ज दूर करता है।

गले की खराश मिटाए : यदि आप सर्दी, कफ या खराश से पीडित हैं तो आप ताजे प्‍याज का रस पीजिये। इमसें गुड या फिर शहद मिलाया जा सकता है।

ब्‍लीडिंग समस्‍या दूर करे : नाक से खून बह रहा हो तो कच्‍चा प्‍याज काट कर सूघ लीजिये।

पाइल्‍स की समस्‍या में सफेद प्‍याज खाना शुरु कर दें।

मधुमेह करे कंट्रोल : कच्‍चा प्याज खाया जाए तो यह शरीर में इंसुलिन उत्‍पन्‍न करेगा।

दिल की सुरक्षा : कच्‍चा प्‍याज हाई ब्‍लड प्रेशर को नार्मल करता है और बंद खून की धमनियों को खोलता है जिससे दिल की कोई बीमारी नहीं होती।

कोलेस्‍ट्रॉल कंट्रोल करे : इसमें मिथाइल सल्‍फाइड और अमीनो एसिड होता है जो कि खराब कोलेस्‍ट्रॉल को घटा कर अच्‍छे कोलेस्‍ट्रॉल को बढाता है।

कैंसर सेल की ग्रोथ रोके : प्‍याज में सल्‍फर तत्‍व अधिक होते हैं। सल्‍फर शरीर को पेट, कोलोन, ब्रेस्‍ट, फेफडे और प्रोस्‍टेट कैंसर से बचाता है।

एनीमिया ठीक करे : प्‍याज काटते वक्‍त आंखों से आंसू टपकते हैं, ऐसा प्‍याज में मौजूद सल्‍फर की वजह से होता है। इस सल्‍फर में एक तेल मौजूद होता है जो कि एनीमिया को ठीक करने में सहायक होता है। खाना पकाते वक्‍त यही सल्‍फर जल जाता है, तो ऐसे में कच्‍चा प्‍याज खाइये।

बाल गिरने की समस्या से निजात पाने के लिए प्याज बहुत ही असरकारी है। गिरते हुए बालों के स्थान पर प्याज का रस रगडने से बाल गिरना बंद हो जाएंगे। इसके अलावा लेप लगाने पर काले बाल उगने शुरू हो जाते हैं।

पथरी की शिकायत में प्याज बहुत उपयोगी है। प्याज के रस को चीनी में मिलाकर शरबत बनाकर पीने से पथरी की से निजात मिलता है। प्याज का रस सुबह खाली पेट पीने से पथरी अपने, आप कटकर बाहर निकल जाती है।

गठिया के लिए : गठिया में प्याज बहुत ही फायदेमंद होता है। गठिया में सरसों का तेल व प्याज का रस मिलाकर मालिश करें, फायदा होगा।

प्याज का पेस्ट लगाने से फटी एडियों को राहत मिलती है।

दांत में पायरिया है, तो प्याज के टुकड़ों को तवे पर गर्म कीजिए और दांतों के नीचे दबाकर मुंह बंद कर लीजिए। इस प्रकार 10-12 मिनट में लार मुंह में इकट्ठी हो जाएगी। उसे मुंह में चारों ओर घुमाइए फिर निकाल फेंकिए। दिन में 4-5 बार 8-10 दिन करें, पायरिया जड़ से खत्म हो जाएगा, दांत के कीड़े भी मर जाएंगे और मसूड़ों को भी मजबूती प्राप्त होगी ।

प्याज के सेवन से आंखों की ज्योति बढ़ती है।

प्याज के रस का नाभि पर लेप करने से पतले दस्त में लाभ होता है। अपच की शिकायत होने पर प्याज के रस में थोड़ा सा नमक मिलाकर सेवन करें।

सफेद प्याज के रस में शहद मिलाकर सेवन करना दमा रोग में बहुत लाभदायक है।

Comments

Nandlal Vishwakarma

very nice

5/18/2014 10:32:16 PM

vijai sharma

very good information ...

3/18/2014 8:42:38 AM

Post Comments
User Pic

Ads